गणपति जी के इस मंदिर ने १९७१ में अमेरिकी पनडुब्बी डुबोकर की थी भारत की रक्षा, तत्कालीन पूर्वी कमाण्ड के एडमिरल कृष्णन ने फोड़े थे 1001 नारियल

गणपति बप्पा के इस मंदिर का इतिहास निराला है सं १९६२ में स्वर्गीय एसजी समबानंदन, टीएस सेल्वागणेशन और टीएस राजेश्वरन ने अपने परिवार के लोगों को पूजा हेतु इस मंदिर की स्थापना की थी | आज भी यह मंदिर निजी प्रांगण में ही स्थित है  ( M/s. S.G. Sambandan & Co., Asilmetta)

स्थानीय मछुआरे प्रतिदिन बाजार जाने से पहले यहाँ आकर दीपआराधन करते थे | इसे अचानक प्रसिद्धि तब मिली जब पाँच वर्ष बाद कांची कामकोटीdownload.jpg पीठ (कांचीपुरम तमिलनाडु) के जगद्गुरु शंकराचार्य परमाचार्य श्री चंद्रशेखर सरस्वती से यहाँ  “गणपति यन्त्रं” की स्थापना करके इस मंदिर को पुनर्भीषेकित किया |  परन्तु  सन  1971, ३-४  दिसंबर को विशाखापत्त्नम
शहर (आन्ध्रप्रदेश ) पर उस वक्त  साक्षात काल मंडरा रहा था जब अमेरिका की दी हुयी पनडुब्बी पीएनएस “ग़ाज़ी” शहर के तट पहुँच कर कोहराम मचाने वाली थी | यह पाकिस्तान की पहली आक्रामक पनडुब्बी थी | भारतीय नौसेना के लिए यह चिंता का विषय था | परन्तु अचानक खबर आई कि तट से लगभग २ नौटिकल मील दूर गाजी में विस्फोट हो गया और सारे पाकिस्तानी सैनिक 24VZDC12_0.jpgपनडुब्बी सहित डूब कर मर गए | यह साक्षात् चमत्कार ही था और पूरी नौसेना में ख़ुशी और उत्साह की लहर  दौड़ गयी, कहा जाता है की संपत विनायक मंदिर के देवता गणपति जी ने नगर की रक्षा की थी, तत्कालीन पूर्वी कमान के इंचार्ज एडमिरल कृष्णन ने यहाँ पर 1001 नारियल चढ़ाये थे |  इस घटना से इस मंदिर की प्रसिद्धि पूरे देश में फ़ैल गयी, न सिर्फ साहित्य जगत में अपितु टोलीवूड में इसे लेकर फिल्मे भी बनायीं गयी | दुनिया के सैन्य इतिहास में आज भी यह खोज, उत्सुकता और राज का विषय है कि इतनी कारगार मशीन अचानक कैसे डूब गयी ??  तो बोलो भैया गणपति बप्पा मोरया … और हमारे facebook page (Prefect News Analysis : Real Media with unbiased analysis) को like व शेयर करना न भूले | आप सभी को गणेश  चतुर्थी व गणेश-उत्सव की मंगल शुभकामनाएं | यह मंदिर विशाखापत्तनम रेलवेस्टेशन से मात्र २ किमी दूरी पर स्थित है |

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s