मौत की हास्यास्पद प्रस्तुति : मानवीय सभ्यता के विनाश का आर्थिक आंकलन, पश्चिमी बाजारू बुद्धि ही लगा सकती है |

दिनाँक 20 जुलाई को राजस्थान पत्रिका ने अपने लगभग सभी संस्करण मे  ग्लोबल वार्मिंग से होने वाले भावी विनाश को दर्शाती  संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की शोध रिपोर्ट से कुछ आंकड़े प्रस्तुत किए, जैसा की चित्र मे भी दर्शाया गया है | भारत के साथ-साथ अनेक देशों मे भी यह रिपोर्ट और इस से जुड़े…

गुजरात का विश्वप्रसिद्ध “गुरूकुलम साबरमती : अभिनव स्वायत्त शैक्षणिक प्रयोग”

भारत में अनेको गुरुकुल हैं परन्तु गुजरात, अहमदाबाद के साबरमती का यह गुरुकुल “हेमचंद्राचार्य संस्कृत पाठशाला” सबसे अलग है | यह गुरुकुल इस समय अपने अनूठेपन और शिक्षा की सही दिशा और उसकी शशक्तता के लिए विश्व-प्रसिद्ध हो रहा है | तभी तो विदेशो तक में बसे भारतीय जिनकी अपने बच्चो को श्रेष्ठ-शिक्षा-संस्कार देने की…

राज्यसभा में सारे मत पक्ष में और सबसे पहले वालमार्ट का ख़ुशी इज़हार करना ? जीएसटी – दाल में काला तो नहीं ?

आखिर  जीएसटी के पक्ष में  कुछ न कुछ  तर्क तो होगा ही जब सरकार इसे पास कराने को आतुर थी | इतना तो सब जानते हैं कि देश के अर्थशाष्त्री हो या कोई भी नीति बनाने वाले अधिकारी, सब पश्चिम की अवधारणा को लेकर चलते हैं | इसके अनगिनत उदहारण मिल जायेंगे जब हमारी सरकारों…